top of page
खोज करे

नये सालके संकल्प साध्य।

अपडेट करने की तारीख: 7 जन॰

नये सालमें आरोग्यविषयक संकल्प करना बहुत साधारणसी बात है। लेकिन उससे डटे रहना मुश्किल है।सही सोच और कृतीशीलतासे आपके संकल्प पूर्ण करके नये साल में आप आरोग्य और तंदुरुस्ती का ध्येय प्राप्त कर सकते हैं।         

         



                

  १) वास्तविक लक्ष्य तय करें।          

  • अस्पष्ट संकल्प करनेके बजाय जैसे "पौष्टिक खाएंगे ,या तंदुरूस्त रहेंगे" से स्पष्ट और प्राप्त करनेमें आसान  लक्ष्य बनाएं।जैसे " हर खाने में कम-से-कम एक भाग फल और सब्जीका हो"।यह स्पष्टता आपको काम करनेके लिए विशिष्ट लक्ष्य देगी।                     

  • आपके लक्ष्य को छोटे छोटे हिस्सों में बांट दो।आपका लक्ष्य अगर "ज्यादा पानी पिना है" तो आज आप कितने ग्लास पानी पी रहे हो उसका माप रखें। शुरूआत में उसमें सिर्फ एक ग्लास बढ़ाएं।धीरे धीरे अपना ध्येय प्राप्त करनेके लिए पानीकी मात्रा बढ़ाएं।                                  

२) तकनिकों का उपयोग             

  • मोबाइल फोनके ॲप्स जो आपकी शारिरीक क्षमता या पानी पीने का रिकार्ड रखते हैं, वह आपको सही दिशा दिखाएंगे।जो प्रस्ताव आपके लिए सही है वहीं उपयोग में लाईए, जो आपकी जरूरतके अनुसार जानकारी दें।

  • Fitness belt(तंदुरुस्ती का पट्टा) या यह जानकारी देनेवाली घड़ियाॅं (smart watches) रिकार्ड़ रखने केलिए इस्तेमाल करें।आपकी हर दिनकी प्रगतीका रिकार्ड अगर सामने हो, तो वह आपकी प्रेरणा बढ़ाएगा।               

३) नियमित कसरत को प्राधान्य दें।                                 

  • आपकी कसरतको जैसे किसीको मिलने का वादा किया हो वैसा महत्व दें।यह आपके लिए कभी न रूकनेवाली क्रिया होनी चाहिए।आपकी दिनचर्या की योजना उसके अनुसार करें।                    

  • आपको जिसमें ज्यादा रूचि हो वह कसरतका प्रकार चुनिए।नाचना हो,हायकिंग हो,योगा हो या झुंबा हो।अपनी पसंदकी कसरत चुननेसे आप उसे नियमित रूप से करनेकी संभावना ज्यादा है।

४)ध्यान देकर एकाग्रता से खाएं।    

  • आस्ते आस्ते ध्यान देकर खानेसे पेट भरनेकी  जानकारी मिलेगी और ज्यादा खानेसे बच सकते हैं।दुसरी बार खाना लेते समय यह एक बार सोचिए कि आप सच में भुखे हैं या आदतसे खा रहे हैं।

  • खुदसे  पूछें कि आपको  इस खानेकी जरूरत है या खानेकी चाह है।अगर भूख है तो जरूर  खाना है।                            

५) मदद या उत्तरदाई लें ।                  

  • आपका संकल्प आपके किसी मित्र या नजदिकी रिश्तेदारसे साॅंझा किजिए। इनकी मददसे आपकी प्रेरणा बढेगी और इनका ध्यान भी आप पर रहेगा।

  • इस बारे में किसी आहारतज्ञ या तंदुरुस्ती तज्ञ की मदद भी ले सकते हैं। पेशेवर सहकारी से वैयक्तिक खुफियाॅं सीखने मिलेगी जिससे आप लक्ष्यकी ओर बढ़ेंगे।                     

६) खुदपर दया दिखाएॅं                      

  • अगर आपका मन ध्येयसे पिछे हट रहा है तो उसे छोड देनेकी बजाय सिखनेकी संधी समझकर उस का फायदा उठाएं।और आपका संकल्प फिर से दृढ करें ।                               

  • आपकी प्रगतिकी खुद तारीफ करें।


छोटी-सी प्रगतीका भी जश्न मनाएं।खानेके अलावा दुसरा कुछ बक्षीश लेकर खुशियाॅं मनाएं। इससे आपके संकल्पकी हिम्मत और प्रेरणा और बढ़ेगी।

2 दृश्य0 टिप्पणी

हाल ही के पोस्ट्स

सभी देखें

Comments


bottom of page